Apane Ang Awayavon se  || Satsankalp  ||  Chat    Login   
  Home | About | Web Swadhyay | Forum | Parijans | Matrimonials
Gayatri Pariwar- Parijans & Matrimonials
 Welcome  Register Matrimonial / Parijan      Search Matrimonial / Parijan      Search Blogs     Search Links     Search Poetries     Search Articles      Image Gallery


    Search Rishichintan     (English words only) 
 <<         >>     81 to 160 of 450                     source:   RishiChintan.Org
*स्रोत अन्दर है, बाहर नहीं  (0) *साधना और सिद्धि का तत्वदर्शन  (0) *आनंदप्राप्ति की दिशा  (0)
* आत्मिक विभूतियों का उभार, उत्कृष्ट जीवन में  (0) *भूत न बनें रहने देवत्व की और बढ़ें  (0) *ईश्वर उपासना से जुडी श्रेष्ठ भावनायें  (0)
* प्रतिकूलताओं से हडबड़ायें नहीं  (0) *नरपशु का नारायण में परिवर्तन आत्मिकी का अवलंबन  (0) *कर्मफल की सुनिश्चितता और प्रायश्चित की आवश्वकता  (0)
* उत्थान -पतन का आधार, आकांक्षाओं का परिष्कार  (0) *आत्मसत्ता परमात्म सत्ता का मिलन संयोग  (0) *समुद्रमंथन की पुनरावृति  (0)
* आदर्शवादी महत्वाकांक्षाओं के फलितार्थ  (0) *"स्व" का विकास और समष्टिगत हित साधन  (0) *करुणा में भगवान  (0)
* उतरोत्तर विकास एक जीवन चक्र  (0) *चेतना के विकास में परिवेश का महत्व  (0) *हम सब उनके पुत्र  (0)
* विचार शक्ति सन्मार्गगामी हो  (0) *सार्वभौम सार्वजनीन माँ की उपासना  (0) *बुद्धि की प्रखरता ही नहीं | भावनाओंकी उदात्तता भी  (0)
* युगधर्म की अवहेलना महंगी पड़ेगी  (0) *अशुभ चिंतन छोडिये -भयमुक्त होइए  (0) *उत्तरदायित्यों को निभाएं, महान बनें  (0)
* लक्ष्य की दिशा में अनवरत यात्रा  (0) *कठिनाइयों का स्वागत कीजिये  (0) *साधना से सिद्धि और मार्ग के अवरोध  (0)
* परिवर्तन असुविधाजनक होते हुए भी अपरिहार्य है  (0) *मुस्कान सुसंस्कृति व्यक्ति की निशानी  (0) *पैरों को तोड़ें नहीं, प्रगति की सहज यात्रा पर बढ़ने दें  (0)
* साधना और सिद्धि का सिद्धांत  (0) *आस्था ही आस्तिकता  (0) *देवता  (0)
* वरदानी शक्ति का देवता सुदृढ़ संकल्प  (0) *तेरा विश्वास शक्ति बने, याचना नहीं  (0) *जीवन, ईश्वर का स्वरूप एवं वरदान  (0)
* आनंद अपनी ही मुट्ठी में पड़ा है  (0) *उपार्जन का सदुपयोग भी  (0) *त्रिविध तनाव और उनसे छुटकारा  (0)
* दिशा निर्धारण मनुष्य का अपना निर्णय  (0) *विचार शक्ति की अनंत सामर्थ्य  (0) *परिष्कृत अंतःकरण मानव जीवन की श्रेष्ठ उपलब्धि  (0)
* विचारों में क्रम-व्यवस्था एवं एकाग्रता बनाए रखें  (0) *सम्पदाएँ नहीं विभूतियाँ  (0) *परमात्मा का अस्तित्व और अनुग्रह  (0)
* दृश्य नहीं दर्शक बनें  (0) *जीवन और उसकी परिभाषा  (0) *साधना पंथ और अनंत ऐश्वर्य  (0)
* वर्चस की साधना आत्मबल उभारने के लिए  (0) *सर्वतोमुखी प्रगति के दो आधार - अध्यात्म और विज्ञान  (0) *प्राण शक्ति - एक जीवंत उर्जा  (0)
* अभीष्ट की उपलब्धि भीतर से ही होगी  (0) *अंतर की गहराई में उतरें  (0) *क्षुद्रता अपनाने से मात्र हानि ही हानि है  (0)
* हम चिंतन की दृष्टि से भी प्रौढ़ बनें  (0) *हम अहंकारी नहीं, स्वाभिमानी बनें  (0) *यथार्थता और एकता में पूर्वाग्रहों की प्रधान बाधा  (0)
* सफलता आत्मविश्वासी को मिलाती है  (0) *अपनी भूलों को समझें और उन्हें सुधारें  (0) *विश्व उपवन में हमारा जीवन पुष्प सा महके  (0)
* मैं को जानने में ही ज्ञान की पूर्णता है  (0) *आवरण बंधनों का विस्फोट  (0) *प्रज्ञावतार की पुण्य वेला  (0)
* आत्म देवता की साधना और सिद्धि  (0) *वैभव की जड़ें अन्तरंग की गहराई में धंसी होती हैं  (0) *धर्म के बिना हमारा काम नहीं चलेगा  (0)
* सम्पति ही नहीं सदाशयता भी  (0) *आत्म निर्भर बनें - अपने आप उठें  (0) *सौंदर्य और शक्ति का स्रोत अंतस में  (0)
* उत्थान पतन की कुंजियाँ अपने हाथ में  (0) *साधना से सिद्धि की प्राप्ति  (0) *ध्यान योग से एकाग्रता की दिव्य शक्ति का उद्भव  (0)
* आत्म जागरण के लिए ध्यान योग की आवश्यकता  (0) *आत्मीयता का विस्तार  (0) *दुःख और सुख सहोदर-सहचर  (0)
* अपने को पहिचानें और विकसित करें  (0) *विचारों की प्रचंड शक्ति और प्रतिक्रिया  (0) *उदार जीवन यात्रा  (0)
* श्रम देवता की साधना  (0) *ईश्वर का द्वार सबके लिए खुला है  (0)

RECENT MATRIMONIALs


Varsha Chourasiya
Education: B.E/B.Tech
Occupation: Not working
Address: Bhopal
--------------


Vinayak Saxena
Education: Diploma
Occupation:  government Services
Address: Ajad Nagar, Rly Harthla colony Moradabad, mo. no. - 9808230450
--------------


Vikram Kumar
Education: B.Sc
Occupation:  Teaching/Education/Languages
Address: V+p:-dumari, P. S -fatuha, dis:- Patna
State:-bihar
--------------

Marriageable Biodata(s)   |   Search

Featured Audios (New) 

GP Audios | Webswadhyay Audios

 
    
  awgp.org  |  dsvv.org  |  diya.net.in  |  RishiChintan.org  |  awgpypmp.org   |  lalmashal.com
To send Query / Comments / Suggestions click Here  
Best viewed in Firefox